Free Hostel: अब कॉमपीटीशन परीक्षा की तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स को मिलेगा रहने के लिए फ्री हॉस्टल, सरकार ने शुरू की नई पहल

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

प्रदेश में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स को रहने के लिए सरकार की तरफ से फ्री हॉस्टल ही सुविधा दी जाएगी। इससे स्टूडेंट्स को प्राइवेट हॉस्टल की महंगी फीस नहीं देनी होगी। हॉस्टल में स्टूडेंट्स को रहने के साथ ही भोजन भी निशुल्क दिया जाएगा।

कॉमपीटीशन एग्जाम जैसे नीट यूजी, जेईई मेंस, क्लेट, आरएएस और यूपीएससी के साथ ही राज्य स्तरीय विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए शहर में रहने वाले स्टूडेंट्स को समाज कल्याण विभाग के द्वारा संचालित विभिन्न हॉस्टल में रहने की सुविधा दी जाएगी।

प्रतियोगी परीक्षा के स्टूडेंट्स के लिए फ्री हॉस्टल

कॉमपीटीशन एग्जाम की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स को फ्री हॉस्टल के संबंध में विभाग द्वारा आदेश जारी किया गया है। प्रदेश में समाज कल्याण विभाग के 800 हॉस्टल में जिनमें 40 हजार के आस पास स्टूडेंट्स रहने की क्षमता है। लेकिन पर्याप्त आवेदन नहीं मिलने के कारण हॉस्टल में सीटें खाली रह जाती है।

इन रिक्त सीटों पर अब समाज कल्याण विभाग की नई पहल के तहत प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स को रहने की सुविधा देने की तैयारी की जा रही है। हॉस्टल में अगले सत्र के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके बाद रिक्त सीटों पर कॉमपीटीशन की तैयारी करने वाले स्टूडेंट्स को प्रवेश दिया जाएगा।

इस नई पहल से समाज कल्याण विभाग के संसाधन का सही उपयोग हो सकेगा और ग्रामीण अंचल के स्टूडेंट्स को परीक्षा की तैयारी करने शहर में रह रहे है, उन्हे भी काफी राहत मिलेगी।

जो स्टूडेंट्स शहर में किराये के कमरे में या प्राइवेट हॉस्टल में रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे है और उनकी आर्थिक हालत ठीक नहीं है, उन्हे समाज कल्याण विभाग के आदेश से बहुत फायदा मिलेगा।

यदि आप सरकारी नौकरी और शिक्षा विभाग के सभी समाचार रेगुलर अपने व्हाट्सअप पर प्राप्त करना चाहते है तो अभी हमारा व्हाट्सअप जरूर जॉइन कर लें, यहाँ पर आपको बस एक क्लिक में सभी जरूरी जानकारी मिलेगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

Close This Ads
WhatsApp